शब्दों की ताकत

जीभ बाइबल हमारे शरीर के एक छोटे लेकिन शक्तिशाली हिस्से के रूप में जीभ का वर्णन करती है। यह हमारे आस-पास के लोगों और हमारे स्वयं के जीवन पर बहुत बड़ा प्रभाव डाल सकता है, अच्छे या बुरे के लिए। इसलिए यह सभी के हित में है कि हम उन शब्दों को नियंत्रित करना सीखते हैं जो हमारे मुंह से …

स्त्री पुरुष के सम्बन्ध कि रचना परमेश्वर की ओर से है

जब बाइबल “एक तन” के बारे में बोलती है, तो यह स्त्री पुरुष के सम्बन्ध के बारे में बोलती है। यह सम्बन्ध शरीर, मन और आत्मा का सम्मिश्रण है। इसका मतलब है कि हम अपने सभी सपनों, गहरी इच्छाओं, ऊर्जाओं और प्यार को अपने पति या पत्नी के सामने प्रकट करते हैं और “अपने आप” को सबसे बड़े उपहार के …

अच्छे रिश्ते

दूसरों को प्राथमिकता देना बाइबल के माध्यम से, परमेश्वर हमें सिखाता है कि अच्छे रिश्ते कैसे होते हैं। बेशक, यह दूसरों को बदलने के बारे में नहीं है, बल्कि बेहतर परिवार के सदस्य, दोस्त या जीवन साथी बनने के लिए खुद को बदलने के बारे में है। हमें दूसरों को खुद से अधिक महत्वपूर्ण समझने के बारे में सीखना होगा। …

मन

परमेश्वर के बारे मे विचार करना परमेश्वर का वचन हमारे मन और हमारे विचारों के बारे में बहुत कुछ कहता है। परमेश्वर ने हमें नए जीवन के साथ-साथ सोचने का नया तरीका भी दिया है। हमारे सोचने और जीने के तरीकों को हमें परमेश्वर के सत्य वचन पर आधारित करना होगा। अपनी सोच बदलें जो चीज़े हमारा नियंत्रण करती हैं …

मैं कैसे फलदायी हो सकता हूं?

बढ़त परमेश्वर ने हमें फलदायी होने के लिए बुलाया है। उसने हमे चुन लिया है, ताकि हम उसके फलदायी स्वभाव में बढ़ें। हमारे जीवन के लिए उसके उद्देश्यों को पूरा करें और उसके राज्य की वृद्धि हो। यह एक बड़ी चुनौती है लेकिन यह सबसे महत्वपूर्ण और पुरस्कृत चीज है जिसे हम अपने जीवन में प्राप्त कर सकते हैं। फल …

विकास के लिए परमेश्वर का वादा

विकास और संख्या वृद्धि परमेश्वर ने सभी जीवित चीजों को विकसित और संख्यावृद्धि करने के लिए बनाया। यह वृद्धि और गुणन केवल भौतिक नहीं है, बल्कि आत्मिक भी है। जबकि परमेश्वर चाहता है कि हम व्यक्तिगत रूप से विकास का अनुभव करें, वह यह भी चाहता है कि हमारी वृद्धि और गुणन दूसरों को मिले। परमेश्वर चाहता है कि उसका …

आनंद

हमेशा आनन्‍दित रहो! आनंद परमेश्वर को जानने से आता है, हमारे लिए उसका प्यार, और उसका उद्धार को जानने से। यह ऊपरी भावना नहीं है जो हमारी परिस्थितियों पर निर्भर करता है। परमेश्‍वर चाहता है कि हमें हर समय पूर्ण अनानंद मे रहे। हम ऐसा तब कर सकते हैं जब हम परमेश्वर की सच्चाई को पकड़े रहते हैं और उसमे …

प्रेम

सबसे बड़ा कारण जब हम बाइबल पढ़ते हैं तो हम इस बारे में प्रोत्साहित होते हैं कि परमेश्वर हमसे कितना प्यार करते हैं। लेकिन परमेश्वर हमें दूसरों के लिए अपने समान प्रेम रखने की आज्ञा भी देते हैं – यहाँ तक कि हमारे दुश्मन से भी! दूसरों के लिए हमारा प्यार वास्तविक होना चाहिए, न केवल शब्दों के माध्यम से, …

स्वतंत्रता

सत्य को ग्रहण करना परमेश्वर हमसे प्यार करता है और चाहता है कि हम पाप, मृत्यु और उन सभी झूठों से पूरी तरह मुक्त हो जाएँ जो हमें दुख पहुँचाएँ। जब हम परमेश्वर के सत्य को उसके वचन में खोजते हैं और इसे अपने जीवन में लागू करते हैं, हम अधिक से अधिक स्वतंत्रता का अनुभव करेंगे और हम इस …

एस्तेर

इस तरह के एक समय के लिए एस्तेर बाइबिल की महान स्त्रियों में से एक है। उसे एक फारसी राजा द्वारा रानी बनने के लिए चुना गया था, जहां उसके लोगों पर अत्याचार किया जा रहा था। उसने अपने लोगों को नष्ट करने की साजिश के बारे मे पता लगाया, और एक बड़ा निर्णय लेने का फैसला किया। उसके साहस …

परमेश्वर पर भरोसा करना

अपने पूरे दिल से परमेश्वर चाहता है कि हम उस पर पूरे दिल से भरोसा करें। इसका अर्थ यह है कि उसके साथ हमारा संबंध स्वस्थ है और हम उससे शांति और आनंद प्राप्त कर सकते हैं। हमें उन क्षेत्रों में सुधार करने की आवश्यकता है जिनमें हम उस पर विश्वास नहीं कर पाते हैं, ताकि हम प्रभु में बढ़ते …

पश्चाताप

परमेश्वर की ओर मुड़ना पश्चाताप का अर्थ है परमेश्वर की ओर मुड़ना । इसमें एक फ़ैसला और क्रिया शामिल है, स्वयं के रास्ते की पर जाने कि दिशा बदलके परमेश्वर कि ओर मुड़ने का फैसला लेना । पश्चाताप का महत्व किस तरीके से पश्चाताप उद्धार का एक भाग है? पश्चाताप कैसे सिर्फ शोक महसूस करने से अलग है? पश्चाताप के …

यहोशू

दृढ़ और साहसी यहोशू परमेश्वर मे दृढ़ और साहसी व्यक्ति था जिसने अपने देश का जीत की और नेतृत्व किया और अपने लोगों के लिए परमेश्वर के उद्देश्यों को पूरा किया। परमेश्वर ने यहोशू से सफलता का वादा किया और उसे इसके लिए तैयार किया। हम यहोशू की सफलता के सिद्धांतों को अपने जीवन में लागू कर सकते हैं और …

गिदोन

असुरक्षा से ताकत तक जब इज़राइल राष्ट्र ने अन्य देवताओं की पूजा शुरू की, तो परमेश्वर ने अन्य देशों को उन्हें प्रताड़ित करने की अनुमति दी। गिदोन नाम का एक युवा इजरायली किसान दुश्मन से छिप रहा था जब उसे परमेश्वर ने एक शक्तिशाली योद्धा कहा था! गिदोन को खुद को परमेश्वर के रूप में देखने के लिए असुरक्षा से …

यीशु मनुष्य क्यों बना?

भले ही यीशु परमेश्वर हैं, उन्होंने खुद को विनम्र किया और एक असाधारण योजना को पूरा करने के लिए मनुष्य के रूप में पृथ्वी पर आए – हमारा परमेश्वर के साथ एक रिश्ता बनाने के लिए। अपने मानवीय रूप के कारण वह हमारी मानवीय स्थिति को आसानी से समझने में सक्षम है। लेकिन यह भी कि उनके मानवीय रूप के …

डर पर काबू

विश्वास के साथ हमें डरने की ज़रूरत नहीं है! परमेश्वर शक्तिशाली है! वह हमारे साथ है और वह हमारी देखभाल करता है! जब हम उसके वचनों का अध्ययन करते हैं तो हमारा विश्वास बढ़ता है और हम भय को दूर कर सकते हैं! परमेश्वर पर भरोसा हमें क्यों नहीं डरना चाहिए? निम्नलिखित वचनों को पढ़ें और उत्तर दें। परमेश्वर ने …

अस्वीकरण पर काबू पाना

परमेश्वर हमें स्वीकार करता है। अधिकांश लोग अपने जीवन में कभी न कभी अस्वीकृत महसूस करते हैं। अपने करीबी लोगों द्वारा दुखित किये जाने पर और टूटे हुए रिश्तों में होने के कारण हम खुद को अनिष्ट और अकेला महसूस करते हैं। अच्छी खबर यह है कि परमेश्वर हमारे दर्द को चंगा करता है, वह हमें स्वीकार करता है और …

पाप पर काबू

बाइबल हमें सिखाती है कि हम आत्मा, मन और शरीर हैं जबकि हमारी आत्मा का जन्म फिर से हुआ है और हमारे मन का नवीनीकरण हो रहा है, यह हमारा शरीर है जिसे पौलुस कमजोर बताता है अच्छी खबर यह है कि हम पवित्र आत्मा को बल और विजय कि ओर हमारी अगुआई करने दे सकते हैं। आत्मा में चलो …

अँधेरे से ज्योति कि ओर

परमेश्वर के सत्य में चलना परमेश्वर ने हमें अन्धकार के साम्राज्य से बचाया है और उसके ज्योति के राज्य में स्वागत किया है! हमारे जीवन के हर क्षेत्र में हमें उसकी ज्योति मे चलने की जरूरत है, आईए हम परमेश्वर के ज्योति में आए ताकि वह हमारे छिपे हुए दुखों और पापों को चुनौती दे और हमें चंगा करे। अन्धकार …

अनंत काल का जीवन

  अनंत काल का जीवन परमेश्वर अनन्त है, और वह हमें अपने जीवन को एक अनन्त दृष्टिकोण और उद्देश्य के साथ जीने के लिए प्रोत्साहित करता है। असल में, उसका हमसे वादा है कि जब हम उस पर विश्वास करेंगे, तो हम उसके साथ स्वर्ग में अनंत काल बिताएँगे। अनन्त वचन अनंत काल के बारे में निम्नलिखित वचन क्या कहते …

परमेश्वर का साम्राज्य

पवित्रशास्त्र स्पष्ट है, जब हम परमेश्वर के राज्य को अन्य सभी से ज्यादा चाहते हैं, और सही तरीके से जीवन जीते हैं, तो परमेश्वर हमें वह सब कुछ प्रदान करता है जिसकी हमें आवश्यकता है। इसका मतलब है कि परमेश्वर का राज्य हमारे जीवन में आता है। जबकि हम अपनी सांसारिक सांस्कृतिक विरासत के लिए आभारी हो सकते हैं, हमे …

यीशु वापस आ रहा है!

अंत की राह देखना Jयीशु फिर से पृथ्वी पर आएगा! हालाँकि कोई नहीं जानता कि वह कब वापस आएगा, हमें अपने जीवन को यीशु के आगमन के लिए हमेशा तैयार रखना चाहिए। हम धर्मी जीवन जीकर और दूसरों को यीशु को जानने में मदद करके ऐसा कर सकते हैं। यीशु की वापसी यीशु के पृथ्वी छोड़ के जाने के बाद …

पवित्र आत्मा में बपतिस्मा

किसी को पवित्र आत्मा से भरे जाने का मुख्य प्रमाण किसी तरह से सेवकाई के लिए शक्ति का प्रदर्शन है। इसमें अन्य भाषा में बोलना, भविष्यवाणी करना, स्तुति करना, प्रचार करना, घोषणा करना या साहसपूर्वक बोलना शामिल है। पवित्र आत्मा से भरा रहना एक अनुभव है जो निरंतर है। यह एक जीवन शैली है! पिता हमें अपनी पवित्र आत्मा से …