अगुएं लोगों को खड़ा करना

यीशु की उसके शिष्यों के साथ तीन साल कि सेवकाई के दौरान शिष्यों ने उसके द्वारा किये सब कार्य देखे और उन्होंने ये भी देखा की यीशु ने कैसे लोगों की सेवा की। यीशु की मिसाल पर चलकर, और पवित्र आत्मा का सामर्थ प्राप्त करने के बाद, शिष्य जहाँ कहीं भी गए, सुसमाचार के शक्तिशाली सेवक बन गए। और वचन …

प्रोत्साहन

परमेश्वर से प्रोत्साहन हमारे भीतर निर्माण करता है और लोगों के साथ हमारे रिश्ते बने रहने में हमारी मदद करता है। एक चर्च के रूप में, हमारे पास एक-दूसरे को प्रोत्साहित करने का महान विशेषाधिकार है। यह हमें एक उत्कृष्ट प्रोत्साहक बनने का अवसर प्रदान करता है। परमेश्वर और उनके वचन द्वारा प्रोत्साहन क्या आप नीचे लिखे वचनों से वर्णन …

लोगों में क्षमता देखना

कुछ शिष्यों का जीवन देखकर ऐसा नहीं लगता कि वे परमेश्वर के कार्य को सफलता से कर पाते। लेकिन यीशु ने उनमें वो क्षमता देखी जो और लोगों के नज़र के परे था। वास्तव में, वो शिष्य पवित्र आत्मा में सम्मान, दृढ़शक्ति, आत्म बलिदान और शक्ति से भरपूर पुरुष और स्त्री बनें। किसके पास क्षमता है नीचे लिखे वचनों को …

प्रार्थना और वचन से लोगों की मदद करना

जीवन और शक्ति के साथ परमेश्वर की शक्‍ति की परवाह किए बिना उसके के वचन को साझा करना उस सामान है, जैसे अपने मेहमानों को एक केक देना और उन्हें इसे खाने नहीं देना। हमें परमेश्वर के वचन को, जो लोगों के जीवन को बदलता है, एक साहसिक और शक्तिशाली तरीके से साझा करना होगा। जब लोग परमेश्वर के वचन …

अपने अनुभव से बयां करें

यीशु ने मेरे लिए क्या किया परमेश्वर ने आपको कैसे बचाया और आपका जीवन कैसे बदला, यह अनुभव बहुत शक्तिशाली है। परमेश्वर आपकी कहानी का उपयोग आपके आसपास के लोगों तक पहुँचने के लिए कर सकता है। परमेश्वर हमें उसकी महान योजना का हिस्सा बनने के लिए आमंत्रित करता है- दूसरों को यीशु के बारे में बताने के लिए। आपकी …

शिष्य बनाना

यीशु हमारी मजबूत बुनियाद शिष्य बनाने का मतलब लोगों को यीशु से जोड़ने है। यीशु अच्छा चरवाहा है और वह चाहता है कि उसके शिष्य उसकी आवाज़ को पहचानें और उसका अनुसरण करें। उसने हमें चुन लिया है, न केवल लोगों को उसके बारे में बताने के लिए, बल्कि उसने हमें सशक्त भी बनाया है ताकि हम शिष्यों को मजबूत …

महान आज्ञा

यीशु की आज्ञा यीशु के स्वर्ग जाने से पहले, उसने अपने चेलों को अपना मिशन जारी रखने के लिए आज्ञा दिया – दुनिया भर में चेला बनाने के लिए। परमेश्वर का सुसमाचार सब देशों में फैलाने और चेला बनाने के लिए हम उसके साथ भागीदार हुए हैं। भेजना! लोगों को भेजा जाना क्यों महत्वपूर्ण है? भेजे जाने से पहले यीशु …