दैनिक पुस्तक

परमेश्वर की आवाज सुनना

हम परमेश्वर से यह उम्मीद कर सकते हैं कि वो हमसे हर रोज बात करें, या जितनी बार हम बाइबल पढ़ने की आदत डालें उतनी बार बात करें। दैनिक पुस्तक हमारे उन व्यक्तिगत अनुप्रयोगों को लिखना है जिनमे हमें लगता है कि परमेश्वर का वचन हमारे जीवन में बात कर रहा है। परमेश्वर का वचन हमें प्रोत्साहित करेगा और हमें बढ़ने में मदद करेगा।

परमेश्वर का वचन

निम्नलिखित पद्य आपको परमेश्वर के वचन को पढ़ने के लिए कैसे प्रोत्साहित और प्रेरित करते हैं?

परमेश्वर से सुनना

हमारे जीवन मे हर दिन के लिए हमें परमेश्वर से एक ताजा वचन मिलने कि भूख रखने की ज़रुरत है।

 

नीचे दिए छंदो को पढ़ें। बाइबल को कैसे पढ़ना चाहिए? हम यह कैसे कर सकते हैं उसका उदाहरण दें।

पूर्व दैनिक पुस्तक कि मॉडल प्रार्थना

बाइबल पढ़ने से पहले प्रार्थना करना अच्छा विचार है, “यीशु, कृपया आज मुझसे बात करें।”

दैनिक पुस्तक कार्यकलाप

नए नियम को पढ़कर शुरू करें। मारकुस की किताब बाइबल का एक बेहतरीन परिचय है।

दिनांक:

शीर्षक/विषय: (अंत मे लिखें)

पद्य:

आवेदन / प्रार्थना:

दोस्त से पूछें

इस पाठ के द्वारा परमेश्वर ने आपसे क्या बात किया?

आवेदन

दैनिक पुस्तक को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाने के लिए आप क्या कर सकते हैं?

मॉडल प्रार्थना

आज के परमेश्वर के वचन से जो कुछ भी सीखा है, उसके बारे में प्रार्थना करने के लिए इस प्रार्थना समय का उपयोग करें।

प्रमुख पध