अपने अनुभव से बयां करें

यीशु ने मेरे लिए क्या किया

परमेश्वर ने आपको कैसे बचाया और आपका जीवन कैसे बदला, यह अनुभव बहुत शक्तिशाली है। परमेश्वर आपकी कहानी का उपयोग आपके आसपास के लोगों तक पहुँचने के लिए कर सकता है। परमेश्वर हमें उसकी महान योजना का हिस्सा बनने के लिए आमंत्रित करता है- दूसरों को यीशु के बारे में बताने के लिए।

आपकी शक्तिशाली कहानी

हमें लोगों को क्या और क्यों बताना चाहिए?

हमें अपनी कहानी लोगों को कैसे बतानी चाहिए?

हमें अपनी कहानी बताने से क्या रोक सकते हैं? हम क्या करना चाहिए?

यह कैसी शक्ति है? ये किसके लिये है?

अपनी कहानी कैसे साझा करें

पौलुस की कहानी की संरचना के 3 भाग हैं।

1. मसीह को प्राप्त करने से पहले:

पौलुस ने जो कुछ भी गलत किया, उसके बारे में विस्तार से वर्णन नहीं किया, बल्कि इस बात पर ध्यान केंद्रित किया कि उसने वो चीजें क्यों की। (ऐसी जानकारी साझा न करें जो बहुत व्यक्तिगत हो, या उन क्षेत्रों के बारे में जहां आपने अभी जीत हासिल नही कि है)।

2. मसीह के साथ उसका सामना:

मसीह का सामना हर किसी के लिए विशेष है, भले ही वह पौलुस के मुठभेड़ के जैसा नाटकीय ना हो।

3. मसीह को ग्रहण करने के बाद:

पौलुस कैसे बदल गया?

उसके बदले हुए जीवन के क्या लाभ थे?

दोस्त से पूछें

क्या आप अपनी कहानी हमें बता सकते हैं? इसे छोटा रखें! (3 मिनट से कम)

पौलुस द्वारा उपयोग की जाने वाली संरचना का पालन करें।

1. मसीह को प्राप्त करने से पहले:

2. मसीह के साथ सामना:

3. मसीह को ग्रहण करने के बाद:

यदि आपके पास समय है, तो अपनी कहानी को समूह के साथ या जोड़े में बताएं ।

आवेदन

  • आप कैसे बदल गए हैं?
  • आपके बदले हुए जीवन के क्या लाभ हैं?

मॉडल प्रार्थना

परमेश्वर, मैं प्रार्थना करता हूं कि मुझे अपनी कहानी किसी और के साथ बाटने का अवसर मिलेगा। मेरे रास्ते में आने वाले किसी भी अवसर के लिए तैयार रहने में मेरी मदद करें

प्रमुख पध