कलीसिया

परमेश्वर का परिवार

कलीसिया एक इमारत नहीं है, न ही यह एक सभा है – यह परमेश्वर के लोगों के रहने, उत्सव मनाने और एक साथ बढ़ने की जगह है। व्यक्तिगत रूप से, चर्च हमें परमेश्वर में विकसित होने और हमारे जीवन की योजना को पूरा करने में मदद करता है। जब हम दूसरों पर ध्यान देते हैं तब, चर्च खोए हुए लोगों को परमेश्वर के रास्ते तक पहुँचने और उसके राज्य के निर्माण का तरीका भी है।

परमेश्वर के लोग ही कलीसिया हैं

जब हम परमेश्वर पर विश्वास करते हैं तो उसका हमको देखने का नजरिया कैसे बदल जाता है?

परमेश्वर के लोग एक साथ जुड़कर कैसे होते हैं?

और यहाँ इफिसियों 4:11-16, हमारे और कलीसिया के लिए परमेश्वर का लक्ष्य क्या है?

कलीसिया किस लिए है?

शुरुआती कलीसिया के बारे में क्या खास था?

(क्या हुआ? उन्होंने क्या किया?)

हमें कलीसिया की आवश्यकता है

हमें इससे क्या सलाह मिल सकती है

हमें कलीसिया की आवश्यकता क्यों है?

परमेश्वर की उपस्थिति –

परमेश्वर का सामर्थ –

परमेश्वर का उपदेश वचन –

परमेश्वर के लोग –

दोस्त से पूछें

  • आपको कलीसिया के बारे मे क्या अच्छा लगता है?
  • आप इस कलीसिया का हिस्सा क्यों हैं?

आवेदन

आपके विचार मे आप कलीसिया के साथ अधिक प्रतिबद्ध संबंध बनाने के लिए क्या कर सकते हैं?

मॉडल प्रार्थना

प्रभु यीशु, मैं आपको धन्यवाद देता हूं कि मैं आपके परिवार का हिस्सा हूं। मैं आपको धन्यवाद देता हूं कि आप मुझे इस कलीसिया के एक भाग के रूप में आशीष दे रहे हैं। मैं प्रार्थना करता हूं कि आप मुझे इस कलीसिया को आशीष देने और इसे विकसित करने में मदद करने के लिए उपयोग करेंगे।

प्रमुख पध