मन

परमेश्वर के बारे मे विचार करना

परमेश्वर का वचन हमारे मन और हमारे विचारों के बारे में बहुत कुछ कहता है। परमेश्वर ने हमें नए जीवन के साथ-साथ सोचने का नया तरीका भी दिया है। हमारे सोचने और जीने के तरीकों को हमें परमेश्वर के सत्य वचन पर आधारित करना होगा।

अपनी सोच बदलें

जो चीज़े हमारा नियंत्रण करती हैं वो हमारे विचारों को कैसे प्रभावित करती है?

परमेश्वर हमें कैसे रूपांतरित करता है? हमे क्या करने की ज़रुरत है?

परमेश्वर ने हमारी सोच में हमारी मदद करने के लिए क्या दिया है?

परमेश्वर के विचार

परमेश्वर के विचार हमारे विचारों से किस तरह अलग है?

हमारे बारे में परमेश्वर के विचार क्या हैं?

अच्छे विचार

हमें चिंता क्यों नहीं करनी चाहिए?

जब हम परमेश्वर के तरीके से विचार करेंगे, तो हम उसकी शांति को प्राप्त करेंगे और उसकी इच्छा को जानेंगे। (फिलिप्पियों 4:9, रोमियों 12:2)

नीचे लिखे वचनो को उन चीजों से मिलाएं जिनके बारे में हमें सोचना चाहिए।

स्वर्ग, अनंत काल

परमेश्वर का वचन

परमेश्वर का वादा

अन्य लोग

दूसरों को प्रोत्साहित करना

अच्छी चीजें

दोस्त से पूछें

  • क्या आप अपने विचार बदलने की कोई कहानी हमें बता सकते हैं?
  • गलत विचारों को रोकने के लिए आप क्या कर सकते हैं?

आवेदन

आपकी सोच के किस हिस्से को आपको बदलने की जरूरत है?

आपको जिन क्षेत्रों को बदलने की आवश्यकता है, उन पर किन वचनों को लागू कर सकते हैं?

मॉडल प्रार्थना

पिता परमेश्वर, मुझे नई जिंदगी और नई सोच देने के लिए धन्यवाद। जब मैं आपके वचन का अध्ययन करता हूँ तो कृपया मेरे सोचने के तरीके को बदलने में मेरी मदद करें।

प्रमुख पध